पुरस्कार

वर्ष 1985 का साहित्य अकादेमी, नई दिल्ली पुरस्कार कहानी संग्रह- "एक दुनिया म्हारी" के अलावा राजस्थानी भाषा, साहित्य एवं संस्कृति अकादमी, राजस्थान साहित्य अकादेमी, मारवाड़ी सम्मेलन, मुम्बई, राजस्थानी ग्रेजुएट नेशनल सर्विस ऐसोसिएशन, मुम्बई सहित अनेक साहित्यिक संस्थाओं से पुरस्कृत एवं सम्मानित।
इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.